रंगकर्मी परिवार मे आपका स्वागत है। सदस्यता और राय के लिये हमें मेल करें- humrangkarmi@gmail.com

Website templates

Thursday, December 27, 2007

असफलता, सफलता की सीढ़ी

जीवन उजाले और अंधेरे, खुशहाली, दरिद्रता, सफलता और असफलता का मिश्रण है। किसी भी काम में सफलता या असफलता निश्चित होती है। जिन्दगी में सफलता प्राप्त करने का कोई सरल मार्ग नहीं होता। सफलता सिर्फ चाहने से नही मिलती, बल्कि ये उन्हीं को मिलती है, जो असफलता से नही घबराते। असफलता ही सफलता का रास्ता दिखाती है। टाम वैटसन सीनियर ने कहा है - अगर आप सफल होना चाहते हैं तो असफलता की दर को दुगुनी कर दीजिए। एक आदमी 21 वर्ष की आयु में व्यापार में असफल हुआ, 22 वर्ष आयु में एक चुनान हारा, 24 साल की उम्र में फिर व्यापार में असफल हुआ, 26 साल की उम्र में उसकी पत्नी की मृत्यु हो गई, उसने अपना मानसिक संतुलन खो दिया, 34 साल की उम्र में कांग्रेस का चुनाव हार गया, 45 वर्ष की आयु में सिनेट के चुनाव में असफल हुआ, 47 साल की उम्र में एक बार फिर चुनाव में असफल हुआ और 52 वर्ष की उम्र में वह अमरीका का राष्ट्रपति बना। ये शख्स था अब्राहिम लिंकन। क्या उन्हें असफल कहा जायेगा। उनके लिए असफलता एक पल की बाधा थी कोई अन्त नहीं । सफलता इस बात से नहीं मापी जाती कि आप ज़िंदगी में कितनी ऊचाईयों तक जाते हैं बल्कि इस बात से तय होती है कि हम गिर कर कितनी बार उठते हैं। गिर कर बार-बार उठने की शक्ति ही सफलता का रास्ता बनाती है। हर असफलता के बाद खुद से पूछे की इस घटना से मैंने क्या सीखा। और तभी आप रास्ते की असफलता को सफलता की सीढ़ी मे बदल पाएंगे। रूफ़ी ज़ैदी

10 comments:

अनुराग अमिताभ said...

रूफी बच्चा बात सही है पर ये भारत है उच्च स्तरीय टुच्च लोगों का देश,यहां असफल होनें पर प्राण ले लिए जाते हैं,
मेरा उदाहरण मेरे सामनें है,मुझ जैसे एक छोटे से शहर के लडके को आपके शहर ने असफल करार दिया,मुझे शानदार ढंग से मेरा शहर दिखा दिया गया,पर इस तथाकथित असफलता ने मुझे भी समझा दिया की खुद को पापा समझो चाहे असफल हो या सफल । खुदाहाफीज

Keerti Vaidya said...

MEIN ANURAAG JI SEY SEHMAT HUN....
DUNIYA CHAYE JO BOLEY...MERA MANNA HAI KISI PAR TRUST NA KARO CHAYE POSTIVE HO YA NEGTIVE..BAS WAHI KARO JO DIL BOLEY LAKIN DHYAN SEY USMEY KISI KA NUKSAAN NA HO....

ZINDAGI KO JEENA HAI TO HAR PROBLEM KA HANS KAR MUKABLA KAREY.

satyandra yadav said...

mai is bat me viswas karta hoon ki asafalta ek chunauti hai swikar karo kya kami rah gai dekho aur sudhar karo .... aaj ki soch yah hai ki yadi aap safal hain to logon ka manana hai ki aap ke safalta ke piche kisi na kisi aadami ka hath hai .. lekin aisa nahi hota .. safalta tabhi milti hai jab aap asafalta ko pasitive roop me lete hain ...
safalta tabhi milti hai jab aap apne lakshya ke taraf dhyan dete hai ,,... kaun kya kah raha hai iska dhyan nahi dena chahiye ...yadi aapka viswas apne upar hai to aapko safal hone se koi nahi rok sakta hai ...kuchh to log kahenge logo ka kam hai kahana...

dipti said...

ये बात सही हो सकती है कि असफलता से सफलता पाई जा सकती है। लेकिन, भाई इसका मतलब ये नहीं कि आप सफलता के लिए कोई प्रयत्न ना करें और ये ही सोचते रहें कि आज असफल हुए है तो कल सफल हो ही जाएगे।

दीप्ति।

satyandra yadav said...

han aap thik kah rahi hain... lagatar prayas hi safalta ki kunji hoti hai ..... safalta me prayas ka importent yogdan hota hai ... aap to janti hai .. bina jay-jay kiye jayjaykar nahi hoti koshish karne walon ki har nahi hoi ..... hame to pahle prayas me hi safalta pane ki koshish karni chahiye .....

smritidubey said...

RUFI, u have written marvelous lines with d beautiful essence of life because this is the bitter-truth. Indian mentality always wants positive even at the every moment of life but life contains all the colours of rainbow so we should learn from the single baby step
JO BHALE HI LARKHARAKAR GIRTA HAI BAR-BAR LEKIN ANTATAH CHALNA SIKH HI JAHA HAI,
WO NANHE KADAM EK DIN PAHARO KO BHI LAANGH JATE HAIN.
ZINDAGI KE THPEDO KO SEHTE HUE
Zaroorat hai khud par vishwas kayam rakhne ki………………………..


Smriti Dubey

prem said...

jab aap himmat karke maidaan me aye tabhi to asafhal huye aur asafhal huye to apni kamiya patta chali aapne dhire-dhire wo kamiya door ki aur aap safhal ho gye

raviraj said...

bilkul sahi success n asuccess life ke do pahlu jo is pahlu ko samaj gaya wo hi success h

veer prakash said...

.hamesha hi apne uper vishwas karna chahiye………….aur jivan mein her ek ko kabhi na kabhi to asafalta ka samna karna hi padhta hai………….per himmat kabhi nahi khoni chahiye……aur apne uper hamesha hi vishwas karna chhiye………..yahi to safalta ka mantra hai

Bisitra Saikia said...

Safalata ka Kunji he Adat...

सुरक्षा अस्त्र

Text selection Lock by Hindi Blog Tips