रंगकर्मी परिवार मे आपका स्वागत है। सदस्यता और राय के लिये हमें मेल करें- humrangkarmi@gmail.com

Website templates

Tuesday, January 1, 2008

हो चमन रोशन...

ज़िन्दगी को हिन्द की ख़ुशबू बनाइये, आज रिसते जख़्म पर मरहम लगाइये । कैसा फ़साद मंदिर-मस्जिद का दोस्तों, हर कदम पर सबको हम सफ़र बनाइये । आज इंसा बेकसी में बेज़री में जी रहे, उस दर्द को सहलाइये नफ़रत मिटाइये । ग़म के बदले ग़म ही कुदरत देती है सदा, पत्थर दिलों पे प्यार की फ़सलें उगाइये। जांनिसारी देश की ख़ातिर करें हमलोग, हो चमन रोशन इसे महमह बनाइये। - भोगेन्द्र पाठक

No comments:

सुरक्षा अस्त्र

Text selection Lock by Hindi Blog Tips