रंगकर्मी परिवार मे आपका स्वागत है। सदस्यता और राय के लिये हमें मेल करें- humrangkarmi@gmail.com

Website templates

Saturday, October 18, 2008

दाल रोटी महंगी सस्ता टी वी फोन

---- चुटकी---- दल रोटी महंगी सस्ता टी वी फोन, ये तरक्की कैसी बतलायेगा कौन। ----- चीनी तेल के भाइयो पल पल बड़ते दाम, दो वक्त की रोटी भी हो गई आज हराम। ---- सेंसेक्स नीचे गिरा सड़क पर आ गए लोग, बेशर्म हमारे नेता फ़िर भी सत्ता रहे हैं भोग। ---गोविन्द गोयल

2 comments:

Mrs. Asha Joglekar said...

आपकी चुटकियाँ काफी प्रसंगिक और सटीक होती हैं । जारी रखिये ।

नारदमुनि said...

thanks,mrs. asha joglekar
yah sab aapke sneh ke karan sambhav hota hai

सुरक्षा अस्त्र

Text selection Lock by Hindi Blog Tips