रंगकर्मी परिवार मे आपका स्वागत है। सदस्यता और राय के लिये हमें मेल करें- humrangkarmi@gmail.com

Website templates

Wednesday, November 28, 2007

थोड़ा सा हंस लो

मिसेज बंता सिंह ने पति बंता सिंह की पिटाई कर दी। मामला अदालत में गया, तो उसने रो-रो कर माफी मांग ली और जज ने भी उसे समझाइश देते हुए बग़ैर सजा के छोड़ दिया। अगले दिन पता चला कि मिसेज बंता सिंह ने फिर पति की पिटाई कर दी। जज ने दुबारा पिटाई का कारण पूछा, तो मिसेज बंता सिंह ने बताया- घर पहुंचते ही बंता सिंह फिर मुझ से झगड़ने लगे। मैंने सब कुछ सहन कर लिया। लेकिन जब उन्होंने कहा कि जज बेवकूफ था, जिसने तुम्हें बग़ैर सजा के छोड़ दिया, तो मुझ से अदालत की तौहीन बर्दाश्त नहीं हुई और..। ------------------------------------------------------------------------------------------------ बंटी के अंग्रेजी में जीरो आने पर संता राय ने उससे पूछा, बेटा ऐसा कैसे हो गया, बाकी विषयों में इतने अच्छे नंबर, पर अंग्रेजी में जीरो। बहुत शर्म की बात है। क्या कुछ भी नहीं लिखा तुमने? पुत्र बंटी, लिखा तो था, पर पापा पेपर में एक सवाल था, जिसका एक उदाहरण देना था। मैंने दिया। लेकिन लगता है कॉपी निरीक्षक को मेरा उत्तर जंचा नहीं होगा।संता राय ने पूछा, बेटा ऐसा कौन सा सवाल था वह? बंटी ने बताया, पापा, उन्होंने चुनौती का एक उदाहरण पूछा था। मैंने पूरी कॉपी खाली छोड़कर, अंत में लिख दिया था- यदि दम हो, तो पास करके दिखाएं। ------------------------------------------------------------------------------------------------ संता सिंह कैदी साथी बंता भाई कैदी से कह रहा था, शक्लें भी खूब धोखा देती हैं। एक बार तो कुछ लोग मुझे डैनी समझ बैठे। बंता भाई ने कहा, सही कह रहे हो। बहुत पहले की बात है, मेरे साथ भी ऐसा हुआ। एक बार मैं दूर-दराज के गांव गया, तो गांव वाले मुझे चौधरी चरण सिंह समझ बैठे थे।संता सिंह बोला, अरे ये तो कुछ भी नहीं। जब मैं चौथी बार जेल पहुंचा, तो जेलर बोला, हे भगवान! तू फिर आ गया। ----------------------------------------------------------------------------------------------- एक दिन अचानक एक रॉन्ग नंबर लग जाने पर संता मनचला अजनबी गर्ल से बोला, डार्लिग, तुम तो मेर दिल में उतर आओ।अजनबी गर्ल बोली, सैंडिल उतारूं क्या?संता मनचला, अरे छोड़ो, ये कोई मंदिर नहीं है, ऐसे ही आ जाओ। ----------------------------------------------------------------------------------------------- संता देवू ने पत्नी बंता प्रीतो से पूछा, अगर मैं मर गया, तो क्या तुम दूसरी शादी करोगी?बंता प्रीतो बोली, नहीं! मैं अपनी बहन के साथ ही रह लूंगी। लेकिन यदि मैं मर गई, तो तुम दूसरी शादी करोगे? बंता देवू, नहीं! मैं भी तुम्हारी बहन के साथ ही रह लूंगा।

2 comments:

Keerti vaidya said...

sach apney hansa diya...

आशीष said...

क्या खूब हैं

सुरक्षा अस्त्र

Text selection Lock by Hindi Blog Tips