रंगकर्मी परिवार मे आपका स्वागत है। सदस्यता और राय के लिये हमें मेल करें- humrangkarmi@gmail.com

Website templates

Monday, November 19, 2007

पैसा नही, दुआऐं चाहिये नीरज के परिवार को

सहारनपुर के टीवी पत्रकार नीरज चौधरी के निधन के बाद कई तरह के सुझाव हमारे साथियों की तरफ से आये। इसी क्रम मे सहारनपुर से आज तक के संवाददाता अनिल जी की तरफ से एक अच्छा सुझाव आया है। हमें उम्मीद है इस सुझाव पर हमारे सभी साथी सहमत होगें। भडास का संचालन करने वाले हमारे वरिष्ठ साथी यशवंत भाई ने इस सुझाव का समर्थन पहले ही भड़ास पर जता दिया है। इस बारे मे आप लोग भड़ास देख सकते है। अनिल जी ने अपना जो सुझाव दिया है। उसके मुख्य अंश यहां साथियों के लिये ड़ाल रहा हुँ। "भड़ास पर पढ़ने के बाद मेने नीरज के परिवार से इस विषय में बात कि तो उन्होने कहा कि वह उन सभी लोगो का धन्यवाद करते है जिन्होंने इस विषय में सोचा, उन्होने कहा कि उन्हें आर्थिक सहायता कि नही उन्हें सिर्फ दुआओं कि आवश्यकता है। यशवंत भाई मैं आपके विचारों कि क़द्र करता हूँ और आपसे अनुरोध करता हूँ कि जो सिलसिला नीरज भाई के नाम से शुरू हुआ है, उसे नीरज कोष का नाम देते हुए यह राशी किसी जरूरतमंद कि सहायता में लगा दें। यही नीरज को हम सभी कि और से सच्ची श्रधांजलि होगी। मेरी और से भी नीरज कोष के जरिये किसी गरीब कि मदद के लिए १००० रूपये किस अकाउंट में जमा करने है बता दीजयेगा । मेरा मोबाइल नम्बर है 9412232433यशवंत भाई भड़ास पर जहाँ भी नीरज के परिवार कि आर्थिक सहायता के विषय में लिखा है वह कृपया कर हटा दें। यह उसके परिवार वालों कि इच्छा है।" परवेज़ सागर

No comments:

सुरक्षा अस्त्र

Text selection Lock by Hindi Blog Tips