रंगकर्मी परिवार मे आपका स्वागत है। सदस्यता और राय के लिये हमें मेल करें- humrangkarmi@gmail.com

Website templates

Sunday, October 23, 2011

दिवाली

दीप सज्जित स्वच्छ गृह सब फूल माला से सजे
नव सुवसना नारी नर सब आज स्वागत में भजे
धूप, चंदन, पुष्पमाला करें पूजन लक्ष्मी का
मलिनता और द्वेष ईर्षा आज के दिन सब त्यजें ।

नाना विविध पकवान से श्री भोग को अर्पित करें
प्रसाद ये फिर स्नेह पूर्वक साथ साथ ग्रहण करें
नमन मन से करें, विनती, देवि से समृध्दी की
घर द्वार आंगन नगर देश सब धान्य औ धन से भरे ।

सुख शांति का साम्राज्य हो पर देश हित तत्पर रहें
हमें असावध देख बैरी ना कोई खटपट करे
मजबूत हों सैनिक हमारे, नागरिक भी सशक्त हों
यही इच्छा करें और इसको कर्म से सुफल करे ।

सभी ब्लॉगर बंधु भगिनियों को दिवाली की अनेक शुभ कामनाएँ ।

6 comments:

Kajal Kumar said...

आपको भी दीपावली की शुभकामनायें

अमित शर्मा said...

पञ्च दिवसीय दीपोत्सव पर आप को हार्दिक शुभकामनाएं ! ईश्वर आपको और आपके कुटुंब को संपन्न व स्वस्थ रखें !
***************************************************

"आइये प्रदुषण मुक्त दिवाली मनाएं, पटाखे ना चलायें"

आकाश सिंह said...

वाह क्या बात है ...बहुत भावपूर्ण रचना.
कभी समय मिले तो http://akashsingh307.blogspot.com ब्लॉग पर भी अपने एक नज़र डालें .फोलोवर बनकर उत्सावर्धन करें .. धन्यवाद .

Rajendra Swarnkar : राजेन्द्र स्वर्णकार said...






आदरणीया आशा जोगळेकर जी
सस्नेहाभिवादन ! प्रणाम !
विलंब से ही सही दीपावली की मंगलकामनाएं !

दीप सज्जित स्वच्छ गृह सब फूल माला से सजे
नव सुवसना नारी नर सब आज स्वागत में भजे
धूप, चंदन, पुष्पमाला करें पूजन लक्ष्मी का
मलिनता और द्वेष ईर्ष्या आज के दिन सब तजें ।

बहुत सुंदर लिखा आपने…

बधाई और मंगलकामनाओं सहित…
- राजेन्द्र स्वर्णकार

"जाटदेवता" संदीप पवाँर said...

अच्छी प्रस्तुति

chicha.in said...

hii.. Nice Post

Thanks for sharing


For latest stills videos visit ..

www.chicha.in

www.chicha.in

सुरक्षा अस्त्र

Text selection Lock by Hindi Blog Tips